Will WeMedia change Indian Media? Can Indian bloggers earn from WeMedia like Chinese writers? Special report on ‘WeMedia’

If we talk about media in India then only newspapers, news magazines and news TV channels are considered as media. Radio is not considered as a part of media because in India except government radio channels no other private radio broadcasts news. Now coming to online media which means “.com”. India has yet not accepted it as a main stream media, however the truth is that not only online media has become the one of the biggest source of revenue but it has also saved many big media houses which…

Read More

देश के मीडिया का नया रूप WeMedia क्या है और कैसे होती है इससे कमाई? फेसबुक के बजाय WeMedia क्यों करवाता है कमाई? हर एक इंसान कैसे जुड़ सकता है WeMedia से

What is Wemdia in India

भारत में अगर मीडिया की बात करें, तो न्यूजपेपर, न्यूज़ मैग्जिन और न्यूज टीवी चैनल्स को ही मीडिया माना जाता है। रेडियो को इसलिए नहीं माना जाता क्योंकि सरकारी रेडियो को छोड़ बाकी प्राइवेट रेडियो स्टेशन्स पर ख़बरें नहीं चला सकते। अब बात आती है Online मीडिया यानी DotCom की। देश में इसको अभी तक मीडिया माना ही नहीं गया, जबकि सच्चाई ये है कि ऑनलाइन मीडिया ना केवल अब सबसे बड़ी कमाई का जरीया बना चुका है बल्कि इसने बंदी की कगार पर खड़ी कई मीडिया कंपनियों को डूबने…

Read More

गूगल-फेसबुक-अलीबाबा को लगी है भूख, इनकी भूख मिटाओ और मोटी कमाई पाओ। वेबसाइट पर लिखकर आप कमा सकते हैं महीने के लाखों रूपए। आगरा के अमित अग्रवाल की कमाई है 40 लाख रूपए, हर्ष की अक्टूबर 2016 की कमाई है 21 लाख रूपए। जानिए क्या है पूरा ये चक्कर और कैसे आप भी कमा सकते हैं जमकर।

how to do earning from search engines

Google को बहुत भूख लगी है। Facebook भी भूख से तड़प रहा है। Linkedin तो बहुत भूखा है। UC News (Part of Alibaba.com Company) भी भूख मिटाने में लगा हुआ है। दुनिया की हर इंटरनेट कंपनी को बहुत भूख लगी हुई है। भूख-भूख पढ़कर हैरत में ना पड़ें। ये खाने की भूख नहीं बल्कि Content की भूख है। कॉन्टेंट यानी किसी भी विषय पर नई जानकारी, समस्याओं का समाधान, आपके आप पास होने वाली ख़बरों की इंटरनेट पर उपलब्धता, वीडियो, फोटो इत्यादि। Content की भूख है क्या 10 साल पहले…

Read More

नोट बदलने की Line में लगने वाले खुद पर गर्व क्यों करें – ये अच्छे से समझ लें। मोदी का खेल दूर की कोड़ी है।

why should you feel proud if you are in line to change notes

1. नेता इसलिए हल्ला मचा रहे हैं क्योंकि इन्होंने ही तो सबसे ज्यादा ब्लैक मनी कमाया था। खुद सोचिए कि एक इलैक्शन जीतने के लिए ये 5-10 करोड़ रूपए पानी की तरह बहा देते हैं ये कहकर कि वो जनता की सेवा करना चाहते हैं। अगर पूरे 5 साल सरकार से मिलने वाली नंबर 1 की कमाई को जोड़ा जाए तो भी इनको चुनाव में खर्च किया पैसा वापस नहीं मिल सकता, तो फिर क्योंकि ये राजनीति में आते हैं। समाजसेवा तो बहाना है खुद की सेवा (काली कमाई) ही…

Read More