देश के मीडिया का नया रूप WeMedia क्या है और कैसे होती है इससे कमाई? फेसबुक के बजाय WeMedia क्यों करवाता है कमाई? हर एक इंसान कैसे जुड़ सकता है WeMedia से

What is Wemdia in India

भारत में अगर मीडिया की बात करें, तो न्यूजपेपर, न्यूज़ मैग्जिन और न्यूज टीवी चैनल्स को ही मीडिया माना जाता है। रेडियो को इसलिए नहीं माना जाता क्योंकि सरकारी रेडियो को छोड़ बाकी प्राइवेट रेडियो स्टेशन्स पर ख़बरें नहीं चला सकते।

अब बात आती है Online मीडिया यानी DotCom की। देश में इसको अभी तक मीडिया माना ही नहीं गया, जबकि सच्चाई ये है कि ऑनलाइन मीडिया ना केवल अब सबसे बड़ी कमाई का जरीया बना चुका है बल्कि इसने बंदी की कगार पर खड़ी कई मीडिया कंपनियों को डूबने या बिकने से बचा लिया है।

अब छोटी बड़ी सभी मीडिया कंपनियों को Online से कमाई के कई बड़े रास्ते दिख गए हैं। दरअसल, ऑनलाइन मीडिया भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में लगभग असंगठित है। लेकिन अब WeMedia आ रहा है, जो इसको संगठित करने के साथ साथ देश के मीडिया को नया रूप देने जा रहा है।

इन्हीं में से एक टर्म है WeMedia. भारत में WeMedia बिल्कुल ही नई चीज है, लेकिन चीन और यूएसए में यह बहुत पोपुलर टर्म है। चीन में तो ये इतना पोपुलर हो चुका है कि हजारों लोग WeMedia पर लिखने से छप्पर फाड़ कमाई कर रहे हैं।

What is wemedia
What is wemedia

क्या है WeMedia?

WeMedia का मतलब है हम लोगों या आम लोगों से मिलकर बनने वाला मीडिया। भारत में कुछ हद तक इसे सीटिजन जर्नलिस्ट या सीटिजन जर्नलिज्म (Citizen Journalist or Citizen Journalism) भी कहा जाता है।

देश में सरकार, सरकारी विभाग और बड़ी कंपनियों से जुड़ी हर जानकारी या घटना की रिपोर्टिंग तो देश का हर छोटा बड़ा मीडिया हाउस करता है लेकिन फिर भी करोड़ों ऐसी ख़बरें रह जाती हैं जिनकी जरूरत आम और खास हर तरह के लोगों को रोजाना की जिंदगी में बहुत ज्यादा होती है। अच्छी बात ये है

पहला उदाहरण – मोबाइल फोन्स से जुड़ी हर तरह की जानकारी (मोबाइल में खराबी, मोबाइल के अच्छे फीचर्स इत्यादि, एक फोन में 2 वॉट्सअप एकाउंट कैसे एक्टिवेट करें इत्यादि)

दूसरा उदाहरण – हर तरह के टैक्स से जुड़ी जानकारी

तीसरा उदाहरण – ट्रेवलिंग के शौकिन लोगों के हर किसी जगह से जुड़ी हर तरह का जानकारी

चौथा उदाहरण – मेडीकल के क्षेत्र में इस्तेमाल होने वाली बहुत ही कठिन भाषा को इतनी आसान भाषा में पेश करना ही आम आदमी भी बीमारी और उसका समाधान समझ सके

पांचवा उदाहरण – खेती-बाड़ी से जुड़ी जानकारी। जैसे किसानख़बर.कॉम देता है। यह ऐसी साइट है जो किसानों की आत्महत्या की रिपोर्टिंग नहीं करती, बल्कि उनका रास्ता दिखाती है कि गेंहू, चावल, आलू से आगे बढ़कर क्या किया जा सकता है, कैसे किया जा सकता है और मदद करने वाले संस्थानों, कंपनियों, व्यक्तियों के फोन नंबरों के साथ। वॉट्सअप पर इसके साथ करीब 5 लाख लोग जुड़ चुके हैं।

छठवां उदाहरण – राजनीति पर ऐसी जानकारियां जो बयानों की बाढ़ की खो जाती हैं।

7वां उदाहरण – फाइनेंस से जुड़ी ऐसी ख़बरें जो आपको आपके पैसे को सही तरीके से Multiply करने की कानूनी तौर पर सही जानकारी देती हो

ऐसे एक-दो नहीं बल्कि हजारों-लाखों उदाहरण हैं। दुनिया भर में इस 112 करोड़ वेबसाइट्स हैं यानी ये संख्या, भारत की जनसंख्या के लगभग करीब है जो कि दुनिया में दूसरे नंबर पर है। जोधपुर, जयपुर, उदयपुर, इंदौर, भोपाल, लखनऊ, आगरा जैसे टायर टू शहरों में सबसे ज्यादा ऐसे ब्लॉगर्स हैं जो ब्लॉगिंग से सबसे ज्यादा कमाई कर रहे हैं।

आगरा के अमित अग्रवाल कमाई के मामले में देश के नंबर 1 ब्लॉगर हैं, जिसकी कमाई महीने की 40 लाख रूपए हैं।

कमाई कैसे होती है

सोशल मीडिया में सबसे ज्यादा यूजर्स फेसबुक के पास हैं और फेसबुक के सबसे ज्यादा यूजर्स भारत में ही हैं। फेसबुक पर जब भी आप कुछ लिखते हैं जो उससे फेसबुक की कमाई होती है ना कि आपकी। लेकिन WeMedia एक ऐसा प्लेटफॉर्म जहां अगर आप अच्छे आर्टिकल्स लिखते हैं जो आपको ना केवल ब्रांडिंग और ट्रैफिक मिलने की संभावना ज्यादा होती है बल्कि आपके आर्टिकल पर दिखने वाले एड से कमाई भी होती है।

फेसबुक और WeMedia में फर्क बस इतना है कि फेसबुक पर लोग टाइमपास के लिए ही सबसे ज्यादा आते हैं जबकि WeMedia प्लेटफॉर्म पर लोग ख़बरें पढ़ने के साथ साथ जानकारी या समस्या का समाधान ढूंढने आते हैं।

कौन जुड़ सकता है WeMedia से

वैसे तो WeMedia से कोई भी जुड़ सकता है लेकिन इंटरनेट कंपनियां खासतौर पर दो तरह के लोगों को WeMedia से जोड़ने पर प्राथमिकता देती हैं।

  1. अपनी कम्यूनिटी में प्रभावशाली व्यक्ति – जैसे मीडिया में काम करने वाला कोई पोपुलर व्यक्ति, ज्योतिष पर लिखने वाले दारूवेजनवाला, ऑटो इंडस्ट्री के सबसे बड़े एक्सपर्ट tutu dhawan, स्पोर्ट्स इंडस्ट्री पर अच्छी जानकारी रखने वाला कोई भी पूर्व या वर्तमान खिलाड़ी या अधिकारी इत्यादि
  2. किसी खास विषय या इंडस्ट्री पर अच्छे आर्टिकल्स यानी स्टोरिज लिखने वाले लोग – जैसे rajivdixt.com, www.kisankhabar.com, www.yourstory.com, www.shoutmeloud.com इत्यादि
  3. फेसुबक पर अच्छे आर्टिकल्स पोस्ट करने वाले भी इससे जुड़ सकते हैं।
  4. अगर आपको भी किसी खास विषय पर अच्छी जानकारी है लेकिन लिखते नहीं है, तो आप भी शुरु कर सकते हैं।

क्या चाहिए WeMedia से जुड़ने के लिए

  1. आपकी वेबसाइट या ब्लॉग जिस पर आप रेगुलर अपडेट करते हैं।
  2. अगर वेबसाइट या ब्लॉग नहीं है जो आप WeMedia सर्विस देने वाली कंपनी का News Editor Tool भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसको इस्तेमाल करना ऊतना ही आसान है जितना जीमेल पर ईमेल टाइप करके भेजना।

 

किसने की है भारत में WeMedia की शुरुआत

देश के मीडिया में इस नए दौर की शुरुआत करने के लिए सबसे पहले UC News आगे आया है। UC News न्यूज एग्रीगेटर एप हैं, जो कि अब देश की नंबर 1 एप बन चुकी हैं। भारत के अलावा इंडोनेशिया में भी यह टॉप पर है। चीन में तो पहले से ही यह मौजूद है। Download करने के लिए क्लिक करें।

अगर आपको WeMedia से जुड़ा कोई सवाल है तो कृप्या पोस्ट के अंत में दिए कॉमेंट बॉक्स में अपना सवाल लिख दीजिए।

Comments

comments

Related posts

8 thoughts on “देश के मीडिया का नया रूप WeMedia क्या है और कैसे होती है इससे कमाई? फेसबुक के बजाय WeMedia क्यों करवाता है कमाई? हर एक इंसान कैसे जुड़ सकता है WeMedia से

  1. I often see our stories from CCM Hindi being picked up by UC News. Tell me, how can I get connected with the WeMedia to earn more?

  2. सत्यप्रकाश

    अगर में शुरू करना चाहू तो क्या करना होगा। और इस पर कितना इन्वेस्ट करना पड़ेगा। क्या कही रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ेगा जैसे आरएनआई या न्यूज़ पेपर ऑफ रजिस्ट्रार या कोई अन्य संस्थान में।

    1. अगर आप यूसी न्यूज जैसी एप कंपनियों का न्यूज राइटिंग टूल इस्तेमाल करते हैं, तो जीरो रूपए का इन्वेस्टमेंट। और अगर अपना खुद का ब्लॉग वर्डप्रेस पर बना लें, तो भी कोई हर्ज नहीं है। लेकिन उसके लिए करीब 10-12 हजार रूपए कोई डेवलपर ले लेगा।

      यह ठीक उसी तरह है जैसे कि फेसबुक पर एकाउंट ओपन करना।

      अपनी रिक्वेस्ट आप wb-pushpendr230003@alibaba-inc.com पर भेज सकते हैं। साथ में अपना फेसबुक प्रोफाइल और ब्रीफ प्रोफाइल डिटेल भी भेजिए। बिजनस डेवलपमेंट टीम रिव्यू के बाद आपको Invitation Email भेज सकती है।

  3. Rajiv Dixit

    We media देने वाली कंपनी कौन कौन सी है, इससे कैसे जुड सकते है।

    1. फिलहाल भारत में यह सर्विस सिर्फ यूसी न्जूज ही दे रहा है लेकिन अगले 1 साल में कई कंपनियां भारत में एंट्री कर लेंगी। सभी कंपनियां अभी कानूनी औपचारिकताएं पूरी करने में लगी हुई हैं।

  4. Jayesh Deliwala

    Very nice concept. I want to part in it. What to do ? Guide me any one. My email I’d
    jpdeditor@hotmail.com

    1. अगर आप यूसी न्यूज जैसी एप कंपनियों का न्यूज राइटिंग टूल इस्तेमाल करते हैं, तो जीरो रूपए का इन्वेस्टमेंट। और अगर अपना खुद का ब्लॉग वर्डप्रेस पर बना लें, तो भी कोई हर्ज नहीं है। लेकिन उसके लिए करीब 10-12 हजार रूपए कोई डेवलपर ले लेगा।

      यह ठीक उसी तरह है जैसे कि फेसबुक पर एकाउंट ओपन करना।

      अपनी रिक्वेस्ट आप wb-pushpendr230003@alibaba-inc.com पर भेज सकते हैं। साथ में अपना फेसबुक प्रोफाइल और ब्रीफ प्रोफाइल डिटेल भी भेजिए। बिजनस डेवलपमेंट टीम रिव्यू के बाद आपको Invitation Email भेज सकती है।

Leave a Comment